August 16, 2022

राजगीर स्थित जू सफारी व नेचर सफारी मार्च तक लोगों के लिए खोला जाएगा : नीतीश कुमार

राजगीर स्थित जू सफारी व नेचर सफारी मार्च तक लोगों के लिए खोल दिया जाएगा। शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इन दोनों स्थानों पर निर्माण कार्य का जायजा लिया। निरीक्षण के बाद पत्रकारों से सीएम ने कहा कि 2009 में मेरी सोच के अनुसार नेचर सफारी एवं जू सफारी निर्माण का कार्य शुरू किया गया था। हमारी सोच थी कि जू सफारी के बगल से ही नेचर सफारी का निर्माण हो लेकिन फॉरेस्ट विभाग के द्वारा कुछ तकनीकी समस्या आ जाने के कारण उन्होंने जू सफारी से अलग हटकर नेचर सफारी का निर्माण कराया। प्राकृतिक सौंदर्य को देखने के लिए सफारी का जो निर्माण किया गया है वह काफी प्रशंसनीय है। उन्होंने कहा कि जू सफारी एवं नेचर सफारी मार्च तक लोगों के लिए खोल दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने नेचर सफारी में निर्मित स्काई वॉक ग्लास ब्रिज का भी जायजा लिया। उन्होंने कहा कि स्काई वाक ग्लास व्रिज लोगों के लिए काफी मनमोहक होगा। यहां से लोग प्राकृतिक सौंदर्य का नजारा देख सकेंगे। बच्चों व युवाओं के लिए काफी आकर्षक होगा। उन्होंने कहा कि दोनों स्थलों पर व्यापक सुरक्षा के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि सफारी शुरू होने के पूर्व ही पुलिस बल की तैनाती कर दी जाएगी। ताकि किसी भी पर्यटक को यहां आने में असुरक्षा महसूस नहीं हो। उन्होंने कहा कि वैसे भी जल जीवन हरियाली सरकार का महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। इसी के तहत यह योजना शुरू की गयी थी। राजगीरअंतरराष्ट्रीय मानचित्र पर पर्यटन स्थल के रूप में चर्चित है। नेचर एवं जू सफारी का प्रारंभ हो जाने से राजगीर पर्यटकों के लिए और मनमोहक स्थान साबित होगा। उन्होंने कहा कि सरकार पर्यटन स्थल को पूरी तरह से विकसित के कटिबद्ध है। इसके साथ ही सभी को गंगा जल उपलब्ध करने की तैयारी की जा रही है ताकि यहां के भू–जलस्तर को संरक्षित किया जा सके। मुख्यमंत्री के साथ प्रधान सचिव चंचल कुमार‚ प्रमंड़लीय आयुक्त संजय अग्रवाल‚ ओएसड़ी गोपाल सिंह‚ वन विभाग के प्रभारी रेंज आईजी पारसनाथ‚ जिला अधिकारी योगेंद्र सिंह‚ पुलिस अधीक्षक निलेश कुमार‚ड़ीएफओ‚ जू सफारी के निदेशक एवं राज्य स्तरीय एवं वन विभाग के कई पदाधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.