August 16, 2022

नीति आयोग की बैठक की अध्यक्षता कर रहे हैं PM मोदी, ममता-अमरिंदर ने बनाई दूरी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज नीति आयोग की प्रशासनिक परिषद की बैठक की अध्यक्षता कर रहे हैं। इस बैठक में राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्यमंत्री शामिल हुए हैं। बैठक के एजेंडे में कृषि, मानव संसाधन विकास और जमीनी स्तर पर सेवाओं की सप्लाई पर चर्चा होगी। बता दें कि पीएम मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग की बैठक में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी शामिल नहीं हुई। इससे पहले भी ममता बनर्जी ने नीति आयोग की बैठकों को निरर्थक बता चुकी है।

– इस वर्ष के बजट पर जिस तरह की सकारात्मक ​प्रतिक्रिया आई उसने जता दिया कि ‘मूड ऑफ द नेशन’ क्या है। देश मन बना चुका है, देश तेज़ी से आगे बढ़ना चाहता है, देश अब समय नहीं गंवाना चाहता। देश के मन को बनाने में देश का युवा मन बहुत बड़ी भूमिका अदा कर रहा है: प्रधानमंत्री

– 2014 के बाद से गांव और शहरों को मिलाकर 2 करोड़ 40 लाख से ज़्यादा घरों का निर्माण किया गया है। देश के 6 शहरों में आधुनिक तकनीक से घर बनाने का एक अभियान चल रहा है। एक महीने में नई तकनीक से अच्छे घर बनाने के नए मॉडल तैयार होंगे: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

– आज जब देश अपनी आज़ादी के 75 वर्ष पूरे करने जा रहा है तब गवर्निंग काउंसिल की बैठक और महत्वपूर्ण हो गई है। मैं राज्यों से आग्रह करूंगा कि आज़ादी के 75 वर्ष के लिए अपने-अपने राज्यों में समाज के सभी लोगों को जोड़कर समितियों का निर्माण हो: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

– हमने कोरोना कालखंड में देखा कि कैसे राज्य और केंद्र सरकार ने मिलकर काम किया, देश सफल हुआ। दुनिया में भारत की एक अच्छी छवि का निर्माण हुआ: 6वीं गवर्निंग काउंसिल की बैठक में प्रधानमंत्री

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए नीति आयोग की 6वीं गवर्निंग काउंसिल की बैठक की अध्यक्षता कर रहे हैं।

वहीं, पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह अस्वस्थ हैं और उनके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में होने वाली नीति आयोग की संचालन परिषद की बैठक में शामिल नहीं हुए। नीति आयोग की संचालन परिषद की बैठक नियमित होती है। यह सरकार के थिक टैंक की शीर्ष इकाई की छठी बैठक है। सिंह के करीबी सूत्रों ने बताया, ‘‘पंजाब के मुख्यमंत्री अस्वस्थ हैं और उनके नीति आयोग की बैठक में नहीं आने की संभावना है। राज्य के वित्त मंत्री उनकी जगह बैठक में हिस्सा लेंगे।’’

बैठक में संचालन परिषद के पदेन सदस्य, केन्द्रीय मंत्री, उपाध्यक्ष, सदस्य और नीति आयोग के सीईओ व भारत सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल हुए है। संचालन परिषद की बैठक नियमित तौर पर होती है और इसकी पहली बैठक आठ फरवरी, 2015 को हुई थी। हालांकि कोविड-19 महामारी के कारण परिषद की पिछले साल बैठक नहीं हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.