August 16, 2022

परीक्षा देते-देते चल बसा होनहार बीमार था फिर भी नहीं माना, रास्ते में बेहोश हो गया तब भी नहीं रुका, परीक्षा देने के दौरान मौत

दुनिया की कोई भी इम्तिहान जान से बड़ी नहीं हो सकती, लेकिन एक होनहार बच्चे को यह बात समझ में नहीं आई। बीमार था फिर भी परीक्षा देने निकल गया। रास्ते में बेहोश हो गया फिर भी जिद नहीं छोड़ी। परीक्षा देते-देते तबीयत ऐसी बिगड़ी कि अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। डॉक्टर उसे बचा नहीं सके। छात्र ने अस्पताल में ही दम तोड़ दिया। यह घटना बिहारशरीफ के आदर्श हाईस्कूल परीक्षा केंद्र पर घटी। मैट्रिक की पहली पाली की परीक्षा दे रहे 16 वर्षीय रोहित कुमार की मौत हो गई है। वह एकंगरसराय प्रखंड के तेल्हाड़ा थाना क्षेत्र के राडिल गांव के निवासी बढ़न सिंह का पुत्र है। बिहारशरीफ के खंदकपर मोहल्ले में साथियों के साथ रहकर आदर्श उच्च विद्यालय में मैट्रिक की परीक्षा दे रहा था।

दोस्तों ने मना किया फिर भी नहीं माना
परिजनों के अनुसार गुरुवार रात से ही रोहित की तबीयत बिगड़ गई। शुक्रवार को जब वह परीक्षा देने जा रहा था, उस वक्त भी वह रास्ते में बेहोश हो गया। दोस्तों ने जब अस्पताल ले जाने की बात कही तो उसने मना कर दिया और परीक्षा देने चला गया। परीक्षा देते वक्त ही अचानक उसकी तबीयत बिगड़ गई। इसके बाद स्कूल प्रशासन ने उसे निजी अस्पताल में भर्ती करवाया। हालत गंभीर होने पर सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया। सदर अस्पताल पहुंचते ही डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बड़ा भाई प्राइवेट कंपनी में काम करता है
घटना की सूचना मिलते ही परिजन अस्पताल पहुंचे। उनका रो-रोकर बुरा हाल है। मृतक दो भाई एक बहन है। बड़ा भाई राहुल दिल्ली में प्राइवेट कंपनी का काम करता है। परिजनों ने बताया कि वह बहुत होनहार था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.